आईएफसीआई ही क्यों

चाहे कोई अत्यन्त महत्वकांक्षी व्यक्ति हो अथवा अदम्य क्षमता वाला कोई अनुभवी व्यावसायिक, आईएफसीआई में करियर बनाने का इच्छुक व्यक्ति स्वयं को गौरान्वित अनुभव करता है । आज आईएफसीआई ने अपनी कार्य-पद्धति में परिवर्तन करते हुए एक नए युग में प्रवेश किया है और यह अपने समग्र परिचालनों में नेतृत्व क्षमता का विकास करने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध है । हम अपने कर्मचारियों को एक उत्प्रेरक कार्य वातावरण उपलब्ध कराते हैं, जिससे पहल करने, नेतृत्व करने की क्षमता, टीम भावना को प्रोत्साहन मिलता है और इससे व्यावसायिक एवं व्यक्तिगत विकास के लिए गहन/अद्वितीय अवसर प्राप्त होते हैं ।

भर्ती - दर्शनशास्त्र

हमें पूर्ण विश्वास है कि किसी संगठन की क्षमता की सफलता भर्ती करने की प्रभावी कार्यनीति में निहित होती है, जिससे सर्वोत्कृष्ट व्यक्तियों की भर्ती की जा सकती है और उन्हें संस्थान में रोका जा सकता है । हमारी भर्ती प्रक्रिया इस अन्तर्निहित दर्शनशास्त्र को ध्यान में रखती है और इसी के अनुसार ऐसे कर्मचारियों का चयन करती है जिनके पास न केवल अपेक्षित दक्षता व अनुभव होता है अपितु वे उपयुक्त रूप से गम्भीर, व्यवाहारिक और चरित्रवार भी होते हैं । हम ऐसे लोगों को महत्व देते हैं जिन्हें अपनी क्षमताओं पर अदम्य विश्वास होता है । हम ऐसे व्यक्तियों के साथ जुड़ना चाहते हैं जिनके पास पहल करने की क्षमता, नेतृत्व क्षमता, उद्यमशीलता, सृजनात्मकता और निष्ठा होती है और जो अपने लक्ष्यों को पूरा करने के प्रति दृढ़ प्रतिज्ञ होते हैं ।

आईएफसीआई में हम यह मानते हैं कि सीखने की प्रक्रिया कभी समाप्त नहीं होती और मानव संसाधन पूंजी के विकास में निवेश करने से सर्वोत्कृष्ट परिणाम प्राप्त होते हैं । इस दर्शनशास्त्र से हमें अपने कर्मचारियों को सीखने की सर्वोत्कृष्ट प्रक्रिया तथा विकास के अवसर प्रदान करने में मार्गदर्शन मिलता है । अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए उद्योग में सुविज्ञ व्यक्तियों को आमंत्रित करने के साथ-साथ हम अपने कर्मचारियों को विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों के प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए भेजते हैं । आईएफसीआई में स्वतः सीखने की प्रक्रिया को प्रोत्साहन दिया जाता है और हम स्वतः सीखने की भावना को बढ़ावा देने के लिए विशेष प्रोत्साहन भी देते हैं ।

हित लाभ

हमारे कर्मचारी ही हमारे प्रतिस्पर्धात्मक हित हैं । कर्मचारी हित योजना व्यक्तिगत जीवन के हर क्षेत्र में समाहित है, उनमें से कुछ इस प्रकार हैं -

चिकित्सा सुविधाएं

  • कार्यस्थल पर चिकित्सा केन्द्र, जहां डाक्टर और दवाइयां उपलब्ध होती हैं ।
  • स्वयं और परिवार के सदस्यों के लिए अस्पताल में रहकर इलाज कराने और बाह्य उपचार हेतु सीमित प्रतिपूर्ति ।
  • चुनिंदा अस्पतालों में बिना किसी अदायगी के चिकित्सा उपचार ।
  • सामूहिक सावधि जीवन बीमा योजना ।

मनोरंजन

  • परिवार के साथ चुनिंदा पर्यटन स्थलों पर अवकाश गृह में रहकर छुट्टियों का आनन्द लेना
  • खेल-कूल की आन्तरिक सुविधाएं (निगमित कार्यालय में)
  • आन्तरिक फिटनेस सेंटर (निगमित कार्यालय में)