-A A +A
अंतिम नवीनीकृत: 17-सितंबर-21

धारा 4(1)

सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के उपबन्धों के अनुसरण में आईएफसीआई लिमिटेड के बारे में सूचना

सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के उपबन्धों के अनुसरण में तथा सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 की धारा 4(1) (बी) के अनुपालन में निम्नलिखित सूचना प्रकाशित की जाती हैः

 

  1. संगठन व क्रियाकलाप

 

क्र. संख्या मद प्रकटन विवरण
1.1 संगठन के क्रियाकलाप तथा इसके दायित्वों के विवरण 4(1)(ख)(i)] (i)   संगठन का नाम व पता
(ii)  संगठन का प्रधान
(iii)  विजन मिशनप्रमुख उद्देश्य
(iv)  क्रियाकलाप व दायित्व
(v)  संगठनात्मक चार्ट

(vi)  अन्य विवरण

क )  परिचय

ख) अब तक का इतिहास

ग )   निगमित  प्रस्तुतीकरण

1.2 इसके अधिकारियों तथा कर्मचारियों की शक्तियां तथा दायित्व [धारा  4(1) (ख)(ii)]

अधिकारियों/कर्मचारियों की शक्तियां तथा दायित्व (प्रशासनिक वित्तीय तथा न्यायिक)तथा नियम / आदेश जिसके तहत शक्तियां और कर्तव्य प्राप्त होते हैं / प्रयोग किए जाते हैं

आईएफसीआई के सभी अधिकारियों/ कर्मचारियों को उनके पद/कार्य-क्षेत्र के अनुरूप दैनिक कार्यों के लिए यथापेक्षित विनिर्दिष्ट दायित्व तथा शक्तियों का प्रत्यायोजन किया गया है । बोर्ड विभिन्न श्रेणी के अधिकारियों के लिए ऐसी शक्तियों के प्रत्यायोजन का निर्णय लेता है । इन शक्तियों की संगठन की आवश्यकतानुसार तथा सरकार/भारतीय रिजर्व बैंक के मार्गनिर्देशों के अनुरूप समय-समय पर पुनः समीक्षा की जाती है/संशोधन किया जाता है।.

शक्तियों का प्रत्यायोजन

(ii) कार्य आबंटन

 संगठनात्मक चार्ट

 क्रियाकलाप व दायित्व

1.3 जवाबदेही की प्रक्रिया में अपनाई जाने वाली कार्य-विधि । [धारा  4(1)(ख)(iii)]

निर्णय लेने की प्रक्रिया इसमें निम्नलिखित शामिल हैं मुख्य निर्णय लेने के पॉइंट्स की पहचानअंतिम निर्णय लेने का अधिकार संबंधित प्रावधान अधिनियम नियम आदि निर्णय लेने की समय सीमा यदि उपलब्ध हो एवं पर्यवेक्षण और जवाबदेही का चैनल

आईएफसीआई में निर्णय लेने की प्रक्रिया के सम्बन्ध में एक सुपरिभाषित कार्य-विधि है । आईएफसीआई उधार देने निवेश वसूली करने तथा अन्य सम्बन्धित परिचालनात्मक मामलों के सम्बन्ध में समितियां बनाता है।आईएफसीआई में भारतीय रिजर्व बैंक/केन्द्रीय सतर्कता आयोग के मार्गनिर्देशों के आधार पर एक पारिभाषित संगठनात्मक ढांचा तथा जवाबदेही की स्पष्ट पद्धति है । किसी मंजूरी देने वाले प्राधिकारी द्वारा अनुमोदित सभी क्रेडिट निर्णयों की सूचना अगले उच्चतर प्राधिकारी को नियंत्रण/अनुवर्तन के प्रयोजन से दी जाती है । शक्तियों के उचित प्रत्यायोजन का प्रयोग करने एवं रिपोर्टें भेजने की पद्धति अपनाई जाती है और इनका नियमित रूप से अनुवर्तन किया जाता है । बोर्ड द्वारा विभिन्न अधिकारियों को प्रत्यायोजित शक्तियों के अनुसार प्रशासनिक निर्णय विभिन्न स्तरों के अधिकारियों तथा कार्यपालक निदेशक कार्यकारी अधिकारी व प्रबन्ध निदेशक द्वारा भी लिए जाते हैं ।

शक्तियों का प्रत्यायोजन

1.4 कार्यों के निर्वहन के लिए मानदंड [धारा 4(1)(ख)(iv)]

(i) प्रस्तावित कार्यों / सेवाओं की प्रकृति

विभाग / क्रियाकलाप  / सेवाएँ

वित्तीय उत्पाद

(ii)  कार्यों / सेवा वितरण के लिए मानदंड / मानक

आईएफसीआई बेंचमार्क दर

निष्पक्ष आचरण संहिता

व्यापार आचरण और आचार संहिता

(iii)  प्रक्रिया जिसके द्वारा इन सेवाओं तक पहुँचा जा सकता है 

क) ऋण आवेदन प्रपत्र

ख) एसडीएफ  - https://dfpd.gov.in/listofbasicdocuments.htm https://dfpd.gov.in/download-forms.htm

ग) एमसिप्स  - निर्धारित प्रारूप में डेटा भरने के निर्देश के साथ आवेदकों द्वारा दावा प्रस्तुत करने की प्रक्रिया और दावे प्रस्तुत करने के लिए आवश्यक प्रमाण पत्र / दस्तावेज एमईआईटीवाई पोर्टल में उपलब्ध हैं  https://www.msips.in/MSIPS/HomePage . सभी आवेदक अपनी परियोजना के अनुमोदन के बाद एमईआईटीवाई द्वारा उन्हें उपलब्ध कराए गए क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और डेटा जमा करने के लिए निर्देश और प्रारूप डाउनलोड कर सकते हैं। एक वीडियो लिंक भी उपलब्ध है जिसमें दावा प्रस्तुत करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताया गया है।

घ) अनुसूचित जातियों के लिए ऋण गारंटी योजना (CEGSSC)

ङ) स्पेक्स 

च) पीएलआई

 

(iv) लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए समय सीमा विभिन्न लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए समय सीमा परिचालन आवश्यकताओं, दक्षता प्राप्त करने, दत्तकार्यों की महत्वपूर्णता, ग्राहक आवश्यकता और नियामक आवश्यकताओं के आधार पर तय की जाती है।

(v)  शिकायतों के निवारण की प्रक्रिया 

क) निवेशक शिकायत तंत्र

ख) शिकायत निवारण पोर्टल

ग) लोकपाल

1.5 नियम, विनियम, निर्देश मैनुअल और कार्यों के निर्वहन के लिए रिकॉर्ड [धारा 4(1)(ख)(v)]

i) रिकार्ड/मैन्युअल/अनुदेश का शीर्षक व स्वरूप तथा नियमों, नियामकों, अनुदेशों, मैनुअलों तथा रिकार्डों की सूची

विभिन्न कार्यों को पूरा करने के लिए कर्मचारियों द्वारा आन्तरिक प्रयोग हेतु जारी इस प्रकार के कई दस्तावेज हैं जैसे मैनुअल, अनुदेशों की पुस्तक, संहिताबद्ध परिपत्र, शक्तियों का प्रत्यायोजन।

आईएफसीआई के सभी कर्मचारी आईएफसीआई स्टाफ विनियम, 1974 से संचालित होते हैं 

(ii) अधिनियम/नियम मैनुअल आदि

सार्वजनिक संस्थान का उपक्रम होने के नाते आईएफसीआई आरटीआई अधिनियम के अधीन पारिभाषित दिशानिर्देशों का पालन करता है‌।

(iii) स्थानान्तरण पॉलिसी तथा स्थानान्तरण आदेश

आईएफसीआई में स्थानान्तरण संगठनात्मक आवश्यकताओं को देखते हुए और स्थानान्तरण पॉलिसी के अनुसार किए जाते हैं।

विभाग प्रमुखों और उसके बाद के स्तर पर संगठनात्मक परिवर्तन अद्यतन संगठन चार्ट में परिलक्षित होते हैं।

स्थानान्तरण पॉलिसी यहां दी गई है।

1.6 प्राधिकरण द्वारा इसके नियंत्रण में रखे गए दस्तावेजों की श्रेणियाँ [धारा 4 (1) (बी) (vi)]  

(i) दस्तावेजों की श्रेणियाँ व दस्तावेजों के कस्टोडियन

दस्तावेज गोपनीय (जो सार्वजनिक नहीं किए जा सकते) और सामान्य, दो श्रेणियों में, वर्गीकृत किए जाते हैं । कम्पनी द्वारा धारित दस्तावेज सामान्यतया सम्बन्धित तथा जवाबदेह अधिकारी द्वारा कम्पनी में ही संदर्भ के प्रयोजन के लिए रखे जाते हैं ।

क) अपने परिचालनों के प्रभावी तथा कुशल संचालन के लिए विभाग द्वारा निम्नलिखित सामान्य दस्तावेज रखे जाते हैं:

  • संगम अनुच्छेद तथा संगम ज्ञापन
  • कारोबार तथा कार्य करने के लिए बनाए गए मैनुअल

ख) गोपनीय दस्तावेज जिन्हें अधिनियम की धारा 8 के अधीन प्रकटन से छूट प्राप्त है, इस प्रकार हैं:

  • बोर्ड बैठकों तथा सामान्य बैठकों के कार्यवृत्त
  • निगम में अन्तर-विभागीय तथा अन्तर विभाग से इतर दस्तावेजों में दिए गए विवेचित प्रक्रिया के उद्देश्य से विधिक सलाह, राय तथा सिफारिशें ।
  • कर्मचारियों के कार्य-निष्पादन मूल्यांकन से सम्बन्धित गोपनीय रिपोर्टें
  • वाणिज्यिक गोपनीयता, व्यापार सम्बन्धी गुप्त सूचनाएं या बौद्धिक सम्पदा सहित सूचनाएं, जिनके प्रकटन से तृतीय पक्षकार की प्रतिस्पर्द्धात्मक स्थिति को हानि पहुंच सकती है ।
  • प्रवर्तन के उद्देश्य से तैयार किए गए जांच रिकार्ड, परंतु इनका प्रकटन उसी सीमा तक किया जाता है जिससे निम्न विनिर्दिष्ट हितों को कोई हानि न पहुंचे:
    • प्रवर्तन कार्यवाही
    • निष्पक्ष परीक्षण या एक निष्पक्ष अधिनिर्णय
    • निजी गोपनीयता
    • जांच स्रोतों की गोपनीयता
    • तकनीक, कार्य-विधियां तथा कानून को लागू करने वाले कार्मिक की सुरक्षा
    • न्यासिक स्थिति वाले अधिकारी के पास उपलब्ध सूचना
    • विदेशी सरकार से विश्वास में ली गई सूचना
    • ऐसी सूचना जिसके प्रकटन से किसी व्यक्ति के जीवन अथवा शारीरिक सुरक्षा का खतरा हो या सूचना के स्रोत का पता लग जाए या कानून को लागू करने या सुरक्षा के उद्देश्य से विश्वास में दी गई सहायता का पता लग जाए ।
    • ऐसी सूचना जो निजी सूचना से सम्बन्धित हो और जिसके प्रकटन से किसी सार्वजनिक क्रियाकलाप या हित का कोई सम्बन्ध न हो या जिससे किसी व्यक्ति की गोपनीयता का अनुचित उल्लंघन हो ।
    • ऐसी सूचना जिसे उसकी अवस्थिति के कारण विशेष रूप से प्रकटन की छूट प्राप्त हो।
    • ऐसी सूचना जिसके प्रकटन से भारत की प्रभुसत्ता तथा अखंडता, सुरक्षा स्थिति, वैज्ञानिक या आर्थिक हित, अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्धों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता हो या जो किसी अपराध को बढ़ावा देती हो।
    • ऐसी सूचना जिसे किसी न्यायालय या अधिकरण द्वारा प्रकाशित करने से स्पष्ट रूप से रोका गया हो या जिसके प्रकटन से न्यायालय की अवमानना हो सकती हो ।
    • ऐसी सूचना जिसके प्रकटन से संसद और राज्य विधान सभा के विशेषाधिकार का अतिक्रमण होता हो।
    • अन्य कोई दस्तावेज जिस पर प्रबन्धन के पूर्ण विवेक पर इसे गोपनीय रखने का निर्णय लिया जाता है।
    • प्रत्येक विभाग अपने दस्तावेजों का रखरखाव करता है।
1.7 सार्वजनिक प्राधिकरण के भाग के रूप में गठित बोर्ड, परिषद, समितियां और अन्य निकाय [धारा 4 (1) (बी) (viii)]  

क) बोर्ड, परिषद, समिति आदि के नाम।

आईएफसीआई लि. का संचालन इसके निदेशक बोर्ड तथा इसकी विभिन्न समितियों द्वारा किया जाता है, जिसका विवरण नीचे दिया गया है। बोर्ड तथा इसकी समितियों की बैठक नियमित अन्तराल पर आयोजित की जाती हैं और आईएफसीआई को इसके उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए दिशा निर्देश देती हैं । आईएफसीआई की बोर्ड के स्तर की समितियां निम्नानुसार हैं -

  • लेखा-परीक्षा समिति
  • कार्यकारी समिति
  • जोखिम प्रबन्धन समिति
  • निगमित सामाजिक दायित्व समिति
  • नामांकन एवं पारिश्रमिक समिति
  • स्टेकहोल्डर्स रिलेशनशिप समिति
  • वसूली व एनपीए प्रबन्धन समिति
  • ई-गर्वेनेंस समिति
  • जानबूझकर चूककर्ताओं की समीक्षा समिति
  • कारोबार दायित्व समिति  

अन्य समितियां निम्नानुसार हैं -

  • क्रेडिट और निवेश समिति (सीआईसी)
  • क्रेडिट सिफारिश समिति (सीआरसी)
  • जोखिम और परिसंपत्ति दायित्व प्रबंधन समिति (आरएएलएमसीई)
  • अधिकारियों की स्क्रीनिंग कमेटी (एससीई)
  • अधिकारियों की शेयर हस्तांतरण समिति
  • क्रेडिट संचालन समिति
  • कार्यपालकों की लेखा परीक्षा समिति (एसीई)
  • सहयोग न करने वाले और जान बुझ कर चूक करने वाले ऋणियों की पहचान के लिए समिति
  • आईटी समिति
  • अचल सम्पदा समिति (आरईसी)
  • राजभाषा कार्यान्वयन समिति
  • यौन उत्पीड़न रोकथाम समिति
  • अनुवर्तन समिति (आईएफआरएस आधारित भारतीय लेखा मानकों के कार्यान्वयन के लिए)
  • मानव संसाधन समीक्षा समिति
  • स्टॉक एक्सचेंज के प्रकटीकरण के लिए संचालन समिति
  • खजाना  कमेटी
  • सब्सिडियरी / एसोसिएट्स में आईएफसीआई के स्टेक के विनिवेश के लिए कार्यकारी समिति
  • रेटिंग समिति
  • धोखाधड़ी जोखिम प्रबंधन समिति (एफ़आरएमसी)
  • डिटेक्टिव एजेंसियों के लिए समिति
  • सिंडिकेशन एंड एडवाइजरी शुल्क समिति
  • संचालन प्रबंधन समिति
  • एसेट मोनेटाइजेशन कमेटी  

 

(ii) संरचना

   बोर्ड स्तरीय समितियों की संरचना

(iii) किस दिनांक से इसे गठित किया गया - उपर्युक्त सभी समितियां इस

    समय स्थाई स्वरूप की हैं ।

(iv) कार्यकाल / अवधि  व शक्तियाँ और कार्य

   बोर्ड स्तरीय समितियों के विचारार्थ विषय

(v) क्या उनकी बैठकें जनता के लिए खुली हैं तथा क्या बैठकों के कार्यवृत्त जनता के लिए उपलब्ध  हैं?

 कम्पनी अधिनियम, 2013 के उपबन्धों के अनुसार बोर्ड तथा बोर्ड स्तरीय समिति की बैठकों के कार्यवृत्त जन साधारण के लिए उपलब्ध नहीं किए जाते । ये कम्पनी अधिनियम, 2013 के उपबन्धों के अनुसार निदेशकों तथा सांविधिक/नियामक निकायों के निरीक्षण के लिए उपलब्ध किए जाते हैं ।

(vi) वह स्थान जहाँ जनता के लिए कार्यवृत्त उपलब्ध हैं?  

   लागू नहीं

1.8 अधिकारियों और कर्मचारियों की निर्देशिका [धारा 4 (1) (बी) (ix)] (i) नाम व पदनाम
(ii)  टेलीफोन, फ़ैक्स व ईमेल आईडी
1.9 अधिकारियों और कर्मचारियों को मुआवजे की प्रणाली सहित मासिक पारिश्रमिक [धारा 4 (1) (बी) (x)] (i)  सकल मासिक पारिश्रमिक सहित कर्मचारियों की सूची
(ii) मुआवजे की प्रणाली जैसा कि उसके विनियमों में प्रदान किया गया है
1.10 सार्वजनिक सूचना अधिकारियों के नाम, पदनाम और अन्य विवरण [धारा 4 (1) (बी) (xvi)] (i)   लोक सूचना अधिकारी (पीआईओ), सहायक लोक सूचना और अपीलीय प्राधिकारी का नाम और पदनाम  
(ii)  प्रत्येक नामित अधिकारी का पता, टेलीफोन नंबर और ईमेल आईडी।
1.11 उन कर्मचारियों की संख्या जिनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई प्रस्तावित / ली गई है (धारा 4 (2))

कर्मचारियों की संख्या जिनके विरुद्ध आनुशासनिक कार्रवाईः

(i) मामूली दण्ड या अधिक दण्ड की कार्यवाहियों के लिए लम्बित

एक

(ii)  मामूली दण्ड या अधिक दण्ड की कार्यवाहियों के लिए अन्तिम रूप दिया गया
प्रमुख दंड –चार
मामूली जुर्माना - शून्य

आरटीआई एक्ट की धारा 20(2) के अधीन, आरटीआई पूछताछों के निपटान के लिए सीपीआईओ के विरुद्ध आनुशासनिक मामले शून्य हैं ।

1.12 आरटीआई (धारा 26) को समझने के लिए कार्यक्रम

i) शैक्षिक कार्यक्रम और इन कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए सार्वजनिक प्राधिकरण को प्रोत्साहित करने के प्रयास

आरटीआई एक्ट से सम्बन्धित विभिन्न प्रशिक्षण/शैक्षिक कार्यक्रम नियमित आधार पर आयोजित किए जाते हैं । एक सार्वजनिक प्राधिकरण होने के नाते आईएफसीआई अपने कर्मचारियों को इन कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करता है ।

ii) सीपीआईओ/एपीआईओ का प्रशिक्षण

आरटीआई एक्ट पर आवासीय कार्यशाला - 14-15 फरवरी, 2019 आरटीआई एक्ट, 2005 तथा आरटीआई नियम 2012 के उपबन्धों के अनुसार कार्यान्वयन - 11-12 जून, 2019 आरटीआई एक्ट 2005 की उभरती प्रवृत्तियां - 29-30 नवम्बर, 2019

(iii) सम्बन्धित सार्वजनिक प्राधिकरण द्वारा आरटीआई पर प्रकाशित दिशानिर्देश तथा अपडेट

सार्वजनिक संस्थान का उपक्रम होने के नाते आईएफसीआई आरटीआई अधिनियम के अधीन पारिभाषित दिशानिर्देशों का पालन करता है‌।

1.13 स्थानांतरण नीति और स्थानांतरण आदेश [एफ नं॰ 1 /6 /2011- आईआर दिनांक2013/04/15]

आईएफसीआई में सभी स्थानान्तरण, स्थानान्तरण पॉलिसी तथा कारोबार आवश्यकताओं के आधार पर किए जाते हैं।

स्थानान्तरण पॉलिसी यहां दी गई है ।  

  2. बजट और कार्यक्रम







क्र. सं॰ मद प्रकटन विवरण
2.1 सभी योजनाओं, प्रस्तावित व्यय और किए गए संवितरणों पर रिपोर्ट सहित प्रत्येक एजेंसी को बजट आवंटित किया गया है [धारा 4 (1) (बी) (xx)] (i) सार्वजनिक प्राधिकरण के लिए कुल बजट (ii) प्रत्येक एजेंसी और योजना और कार्यक्रमों के लिए बजट (iii) प्रस्तावित व्यय (iv) प्रत्येक एजेंसी के लिए संशोधित बजट, यदि कोई हो (v) संबंधित रिपोर्ट उपलब्ध होने के स्थान पर किए गए संवितरण पर रिपोर्ट करें इसके कार्यात्मक / परिचालन डोमेन में से प्रत्येक को आवंटित बजट, सभी योजनाओं, प्रस्तावित व्यय के विवरण और किए गए संवितरण पर रिपोर्ट के संकेत, वाणिज्यिक विश्वास के मामले हैं। सब्सिडी / प्रोत्साहन कार्यक्रमों के लिए बजट जैसे कि एसडीएफ़, एम-सिप्स और सीईजीएसएससी क्रम संख्या 2.3  पर, नीचे उपलब्ध कराया गया है।
2.2 विदेशी और घरेलू पर्यटन (एफ॰ नंबर 1/8 / 2012- आईआर, दिनांक  11.9.2012)

(i) बजट

लागू नहीं;

ii)   विभाग के प्रमुख और मंत्रालय और संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारियों द्वारा विदेशी और घरेलू दौरे

क) दौरे किए गए स्थान
ख) दौरे की अवधि
ग) आधिकारिक प्रतिनिधिमंडल में सदस्यों की संख्या
घ) दौरे पर व्यय

लागू नहीं

(iii)  खरीद से संबंधित जानकारी 

क)  नोटिस/निविदा पूछताछ, व  इससे संबन्धित शुद्धिपत्र यदि कोई हो

ख) खरीदे जाने वाले सामानों / सेवाओं के आपूर्तिकर्ताओं के नाम सहित दी गई बोलियों का विवरण:

ग) उपरोक्त के किसी भी संयोजन में - काम के अनुबंध समाप्त हो गए -तथा

घ) दर / दर और कुल राशि जिस पर ऐसी खरीद या कार्य अनुबंध निष्पादित किया जाना है।

निविदाएं प्रदान की गईं

2.3 सब्सिडी कार्यक्रम के निष्पादन का शिष्टाचार [धारा 4 (i) (बी) (xii)]

(i)  गतिविधि के कार्यक्रम का नाम 

क) एसडीएफ- उपभोक्ता विकास, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के तहत चीनी विकास निधि अधिनियम, 1982 के तहत चीनी विकास निधि (एमओसीएएफ़पीडी)

ख) एम-सिप्स - इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत संशोधित विशेष प्रोत्साहन पैकेज योजना (एमईआईटीवाई)

ग) सीईजीएसएससी- सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के तहत अनुसूचित जाति (सीईजीएसएससी) के लिए ऋण संवर्धन गारंटी योजना (एमओएसजेई)

घ)  स्पेक्स - इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (भारत सरकार) द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स कंपोनेंट्स और सेमीकंडक्टर्स (स्पेक्स) के विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए योजना। आई एफ सी आई को योजना के लिए परियोजना प्रबंधन एजेंसी (PMA) के रूप में कार्य करने के लिए आई एफ सी आई को वर्क ऑर्डर जारी किया गया है

ई) पीएलआई -   बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के लिए उत्पादन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम (पीएलआई) 01 अप्रैल, 2020 को राजपत्र अधिसूचना संख्यासीजी-डीएल-ई-01042020-218990 दिनांकित अधिसूचना द्वारा अधिसूचित किया गया है। यह स्कीम घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने और मोबाइल फोन निर्माण में बड़े निवेश को आकर्षित करने के लिए उत्पादन से जुड़े प्रोत्साहन प्रदान करती है। असेंबली, टेस्टिंग, मार्किंग और पैकेजिंग (ATMP) इकाइयों सहित निर्दिष्ट इलेक्ट्रॉनिक घटक। इस योजना से इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण परिदृश्य को काफी बढ़ावा मिलेगा और इलेक्ट्रॉनिक्स स्तर पर भारत वैश्विक स्तर पर स्थापित होगा । 

(II) कार्यक्रम का उद्देश्य, लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया,  कार्यक्रम / योजना की अवधि, कार्यक्रम के भौतिक और वित्तीय लक्ष्य,   उपसहायता /आवंटित राशि / राशि की प्रकृति / पैमाने , उपसहायता प्रदान करने के लिए पात्रता मानदण्ड व  सब्सिडी कार्यक्रम के लाभार्थियों का विवरण (संख्या, प्रोफ़ाइल आदि) (II) कार्यक्रम का उद्देश्य, लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया,  कार्यक्रम / योजना की अवधि, कार्यक्रम के भौतिक और वित्तीय लक्ष्य,   उपसहायता /आवंटित राशि / राशि की प्रकृति / पैमाने , उपसहायता प्रदान करने के लिए पात्रता मानदण्ड व  सब्सिडी कार्यक्रम के लाभार्थियों का विवरण (संख्या, प्रोफ़ाइल आदि) 

क) एसडीफ -

ख) एमसिप्स -

) सीईजीएसएससी -

घ) स्पेक्स  - योजना अभी शुरू हुई हैं और अभी तक किसी भी वित्तीय लाभ का वितरण नहीं किया गया है।

ङ) पीएलआई - योजना अभी शुरू हुई हैं और अभी तक किसी भी वित्तीय लाभ का वितरण नहीं किया गया है।

(vii)  उपसहायता प्रदान करने के लिए पात्रता मानदण्ड  
2.4 विवेकाधीन और गैर-विवेकाधीन अनुदान [फ.सं॰.1/6/2011-आईआर दिनांक. 15.04.2013]

(i) राज्य सरकार/गैर सरकारी संगठनों/अन्य संस्थानों को विवेकसम्मत और गैर-विवेकसम्मत अनुदान/आबंटन
आईएफसीआई में सूचना के अधिकार अधिनियम लागू होने के पश्चात्, वर्ष 2013 से सूचना के अधिकार अधिनियम, 2005 को लागू किया । तब से 31.12.2020 तक दिए गए अनुदानों की सूचना निम्नानुसार है ।
विवेकसम्मत अनुदान - 26.62 लाख रुपए (फरवरी, 2015 में इन्स्टिट्यूट ऑफ लीडरशिप डिवेलपमेंट (आईएलडी) को)
(ii) सभी विधिक इकायइयों के वार्षिक खाते जिन्हें सार्वजनिक प्राधिकरणों द्वारा अनुदान प्रदान किए गए, जो यहां उपलब्ध हैं ।

2.5 सार्वजनिक प्राधिकरण [धारा 4 (1) (बी) (xiii)] द्वारा प्राप्त रियायतों के प्राप्तकर्ताओं के विवरण, प्राधिकरण के परमिट (i)  सार्वजनिक प्राधिकरण द्वारा दी गई रियायतें, परमिट या प्राधिकरण  लागू नहीं
(ii) दी गई प्रत्येक रियायत, अनुमति या प्राधिकार के लिएक) पात्रता मानदंडख) प्राधिकरणों की रियायत / अनुदान और / या परमिट प्राप्त करने की प्रक्रियाग) रियायतों / परमिट या प्राधिकरण दिए गए प्राप्तकर्ताओं का नाम और पताघ) प्राधिकरणों के रियायत / परमिट के पुरस्कार की तारीखलागू नहीं
2.6 सीएजी व पीएसी पैरा [फ सं॰. 1/6/2011- आईआर दिनांक. 15.4.2013]

क) सीएजी व पीएसी पैरा और कार्रवाई के बाद रिपोर्ट (एटीआरस) संसद के दोनों सदनों की मेज पर रखी गई है।सीएजी की टिप्पणियों और आईएफसीआई के प्रबंधन की टिप्पणियों को हमारी वार्षिक रिपोर्ट में शामिल किया गया है, जो यहां उपलब्ध हैंइसके अलावा, आईएफसीआई में क्रेडिट जोखिम प्रबंधन पर सीएजी की ऑडिट रिपोर्ट उपलब्ध है 

इसके अलावा, आईएफसीआई में क्रेडिट जोखिम प्रबंधन पर सीएजी की ऑडिट रिपोर्ट यहाँ उपलब्ध है 

 

  3. प्रचार बैंड सार्वजनिक इंटरफेस

क्र. सं॰ मद प्रकटन विवरण
3.1 नीति के निर्माण या उसके कार्यान्वयन के संबंध में जनता के सदस्यों द्वारा परामर्श या प्रतिनिधित्व के लिए किसी भी व्यवस्था के लिए विवरण [धारा  4(1)(बी )(vii)]   [फा सं  1/6/2011-आईआर दिनांक . 15.04.2013]

परामर्शों के लिए व्यवस्था या जनता के सदस्यों द्वारा प्रतिनिधित्व

(i) प्रासंगिक अधिनियम, नियम, प्रपत्र और अन्य दस्तावेज जो आम तौर पर नागरिकों द्वारा एक्सेस किए जाते हैं

(ii) परामर्शों के लिए व्यवस्था या जनता के सदस्यों द्वारा प्रतिनिधित्व

क) नीति निर्माण / नीति कार्यान्वयन में जनता के सदस्य

ख) आगुन्तकों के लिए आबंटित दिन व समय

ग) आरटीआई आवेदकों द्वारा अक्सर पूछे जाने वाले प्रकाशन प्रदान करने के लिए सूचना और सुविधा काउंटर (आईएफसीआई) के संपर्क विवरण

लागू नहीं

आईएफसीआई के शेयरधारक भारत सरकार, राष्ट्रीयकृत बैंक/वित्तीय संस्था, अन्य राज्यों द्वारा चल रही बीमा कम्पनियां और जन साधारण है । नीतियों के सम्बन्ध में मुद्दे शेयरधारकों द्वारा आईएफसीआई की वार्षिक महासभा में उठाए जा सकते हैं । आईएफसीआई अपने तिमाही व वार्षिक परिणाम रिपोर्टें आईएफसीआई की वेबसाइट और समाचार-पत्रों में भी प्रकाशित करता है ।

सम्बन्धित कार्यालय/विभागों से सोमवार से शुक्रवार प्रातः 9.30 बजे से सायं 5.30 बजे तक कार्यालय घण्टों के दौरान सम्पर्क किया जा सकता है ।

इसके अतिरिक्त, निवेशक/शेयरधारक निम्न लिंक की मार्फत यहां पहुंच सकते हैं

 

सार्वजनिक- निजी भागीदारी (पीपीपी)(i) विशेष प्रयोजन वेहिकल (एसपीवी) का विवरण, यदि कोई हो(ii) विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर)(iii) रियायत समझौते।(iv) संचालन और रखरखाव नियमावली(v) पीपीपी के कार्यान्वयन के हिस्से के रूप में उत्पन्न अन्य दस्तावेज(vi) फीस, टोल या अन्य प्रकार के राजस्व से संबंधित जानकारी जो सरकार से प्राधिकरण के तहत एकत्र की जा सकती है(vii) आउटपुट और परिणामों से संबंधित जानकारी(viii) निजी क्षेत्र की पार्टी (रियायतकर्ता आदि) के चयन की प्रक्रिया(ix) पीपीपी परियोजना के तहत किए गए सभी भुगतानलागू नहीं- आईएफसीआई किसी भी पीपीपी प्रोजेक्ट के लिए रियायत जारी करने वाला प्राधिकरण नहीं है।
3.2 क्या नीतियों / निर्णयों का विवरण है, जो जनता को प्रभावित करते हैं, उन्हें सूचित किया [धारा 4 (1) (ग)]

महत्वपूर्ण नीतियां बनाते समय या निर्णय की घोषणा करते समय सभी प्रासंगिक तथ्यों को प्रकाशित करें जो प्रक्रिया को अधिक इंटरैक्टिव बनाने के लिए जनता को प्रभावित करते हैं; (i) पिछले एक वर्ष में लिए गए नीतिगत निर्णय / विधान 

आईएफसीआई बेंचमार्क दर  

निष्पक्ष आचार संहिता

व्यापार आचरण व आचार संहिता

(ii)  सार्वजनिक परामर्श प्रक्रिया की रूपरेखा  लागू नहीं
(iii)  नीति तैयार करने से पहले परामर्श की व्यवस्था की रूपरेखा तैयार करना  लागू नहीं
3.3 व्यापक रूप से और ऐसे रूप और तरीके से सूचना का प्रसार जो जनता के लिए आसानी से सुलभ हो [धारा 4 (3)] संचार (i) इंटरनेट (वेबसाइट) के सबसे प्रभावी साधनों का उपयोग आरटीआई अधिनियम की धारा 4.1 (बी) के तहत सुओ मोटों सूचना का खुलासा हमारी वेबसाइट https://www.ifciltd.com/ पर प्रकाशित किया गया है, जिसमें यह वेब पेज भी शामिल है। इसके अलावा कुछ विशेष सूचनाएँ नोटिस बोर्ड, समाचार पत्र, मीडिया प्रसारण आदि के माध्यम से भी प्रकाशित की जाती हैं।
3.4 सूचना मैनुअल / हैंडबुक की पहुंच का रूप [धारा 4 (1) (बी)] सूचना मैनुअल / हैंडबुक- उपलब्ध हैं:(i) इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप(ii) मुद्रित प्रारूपआरटीआई अधिनियम की धारा 4.1 (बी) के तहत सूचना के सू मोटो का खुलासा हमारी वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया है-- स्वत: संज्ञान लेना https://www.ifciltd.com/ , इस वेब पेज सहित इसके अलावा कुछ निश्चित सूचनाओं को नोटिस बोर्ड, समाचार पत्र, मीडिया प्रसारण आदि के माध्यम से भी प्रकाशित किया जाता है।
 
3.5 सूचना मैनुअल / हैंडबुक मुफ्त उपलब्ध है या नहीं [धारा 4 (1) (बी)] उपलब्ध सामग्री की सूची(i) नि: शुल्क(ii) माध्यम की उचित लागत परआरटीआई अधिनियम की धारा 4.1 (बी) के तहत सुओ मोटों सूचना का खुलासा हमारी वेबसाइट https://www.ifciltd.com/ पर  प्रकाशित किया गया है, जिसमें यह वेब पेज भी शामिल है। वेबसाइट पर जानकारी तक पहुंच मुफ्त है।

 

  4. ई शासन

क्र. सं॰ मद प्रकटन विवरण
4.1 वह भाषा जिसमें सूचना मैनुअल / हैंडबुक उपलब्ध है [फा सं॰. 1/6/2011-आईआर दिनांक. 15.4.2013] (i)  अंग्रेजी आरटीआई अधिनियम की धारा 4.1 (बी) के तहत सुओ मोटों सूचना का खुलासा हमारी वेबसाइट https://www.ifciltd.com/ पर प्रकाशित किया गया है, जिसमें यह वेब पेज भी शामिल है।
(ii)  वर्नाकुलर / स्थानीय भाषाआरटीआई अधिनियम की धारा 4.1 (बी) के तहत सुओ मोटों सूचना का खुलासा हमारी हिन्दी वेबसाइट - https://www.ifciltd.com/?q=hi पर भी  प्रकाशित किया गया है, हमारी हिन्दी वेब साइट का लिंक निम्नानुसार है - https://www.ifciltd.com/?q=hi/content/%E0%A4%A7%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%....
4.2 मैनुअल / हैंडबुक जानकारी,अंतिम बार कब अपडेट की गई थी? [एफ नंबर १ / ६ / २०११-आईआर दिनांक १५.४.२०११] वार्षिक अध्यतन की अन्तिम तारीख वैबसाइट नियमित रूप से अपडेट की जाती है
4.3 इलेक्ट्रॉनिक रूप में उपलब्ध जानकारी [धारा 4 (1) (बी) (xiv)] (i)  इलेक्ट्रॉनिक रूप में उपलब्ध जानकारी का विवरण
(ii)  दस्तावेज़ / रिकॉर्ड / अन्य जानकारी का नाम / शीर्षक
(iii)  स्थान जहाँ उपलब्ध हो आरटीआई अधिनियम के खंड 4.1 (बी) के तहत सुतो प्रकटीकरण से संबंधित जानकारी और कुछ अतिरिक्त जानकारी हमारी वेबसाइट https://www.ifciltd.com/ पर पहले ही प्रकाशित हो चुकी है, जिसमें आरटीआई भी शामिल है। इसके अलावा, अन्य दस्तावेज हमारे आंतरिक आईटी सिस्टम पर उपलब्ध हैं और यदि ऐसे दस्तावेजों को आरटीआई अधिनियम की धारा 8 के तहत छूट नहीं दी जाती है, तो उपयुक्त आरटीआई आवेदन प्राप्त होने के आधार पर इसे साझा किया जा सकता है। .
4.4 जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिकों को उपलब्ध सुविधाओं का विवरण [धारा 4 (1) (बी) (xv)]  (i) संकाय का नाम व अवस्थिति तथा उपलब्ध कराई गई सूचना के विवरण

आईएफसीआई के शेयरधारक भारत सरकार, राष्ट्रीयकृत बैंक, विदेशी संस्थागत निवेशक, राज्यों द्वारा चालित बीमा कम्पनियां तथा जन साधारण है । शेयरधारकों का आईएफसीआई की वार्षिक महासभा में भाग लेने पर स्वागत किया जाता है । आईएफसीई अपने तिमाही तथा वार्षिक परिणाम/रिपोर्टें आईएफसीआई वेबसाइट तथा समाचार-पत्रों में प्रकाशित करता है ।

इसके अतिरिक्त, निवेशक/शेयरधारक निम्नलिखित लिंक की मार्फत इसे देख सकते हैं ।

निवेशक सेवाएं

संगठनात्मक चार्ट यहां दिया गया है ।

हमारे विभिन्न कार्यालयों के विवरण यहां दिए गए हैं ।

आरटीआई एक्ट के खण्ड 4.1 (ख) के अधीन, स्वतः प्रकटन से सम्बन्धित सूचना तथा कतिपय अतिरिक्त सूचना, इस वेब पेज सहित, हमारी वेबसाइट https://www.ifciltd.com/  पर पहले से ही उपलब्ध है

(ii) संकाय के कार्य-घण्टे

सम्बन्धित कार्यालयों/विभागों से सोमवार से शुक्रवार, कार्य घण्टों के दौरान अर्थात् प्रातः 9.30 बजे से सायं 5.30 बजे तक सम्पर्क किया जा सकता है ।

(iii) सम्पर्क व्यक्ति व सम्पर्क विवरण (फोन, फैक्स, ईःमेल)

सीपीआईओ के सम्पर्क विवरण यहां दिए गए हैं । आरटीआई एक्ट, 2005 के ढांचे के अनुसार नागरिक सीपीआईओ के साथ सम्पर्क कर सकते हैं ।

कृपया नोट करें कि कम्पनी सार्वजनिक प्रयोग के लिए कोई पुस्तकालय या पाठ्य कमरे का रखरखाव नहीं करती है।

4.5 ऐसी अन्य जानकारी जो धारा 4 (i) (ख) (xvii) के तहत दी जा सकती है

(i)  शिकायत निवारण तंत्र

क) निवेशक शिकायत तंत्र

ख) शिकायत निवारण पोर्टल

ग) लोकपाल

(ii)  आरटीआई के तहत प्राप्त आवेदनों का विवरण और प्रदान की गई जानकारी  आईएफसीआई  ने आरटीआई अधिनियम, 2005 को 2013 से आरटीआई अधिनियम के लागू होने के बाद, आईएफसीआई के लिए लागू किया है और नागरिकों को अपनी व्यावसायिक गतिविधियों में पारदर्शिता और निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए अधिनियम के तहत जानकारी प्रदान कर रहा है। निम्नलिखित आईएफसीआई द्वारा प्राप्त आवेदनों की वर्ष-वार गणना है, और आरटीआई अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के अनुसार, निर्धारित समय के भीतर इसका निपटान किया गया. 

वित्तीय वर्ष 2012-13 : 32 आवेदन
वित्तीय वर्ष 2013-14 : 134 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2014-15 : 110 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2015-16 : 114 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2016-17 : 142 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2017-18 : 95 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2018-19 : 98 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2019-20 : 117 आवेदन 

प्राप्त और निपटाए गए आवेदनों का विवरण यहां दिया गया है

(iii)  पूर्ण योजनाओं / परियोजनाओं / कार्यक्रमों की सूची - लागू नहीं

(iv)  चल रही योजनाओं / परियोजनाओं / कार्यक्रम की सूचीचल रही सबसिडी / प्रोत्साहन योजनाओं का विवरण 2.3 में  ऊपर दिया गया है। योजनाओं के अवलोकन के लिंक आसान संदर्भ के लिए नीचे दिए गए हैं:

क) एसडीफ -

ख) एमसिप्स -

) सीईजीएसएससी -

घ) स्पेक्स 

ङ) पीएलआई

(v)  सभी अनुबंधों का विवरण जिसमें ठेकेदार का नाम, अनुबंध की राशि और अनुबंध पूरा होने की अवधि शामिल है

अवार्ड की गई निविदाओं के विवरण

(vi)  वार्षिक रिपोर्ट

(vii)  अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

शेयरधारकों के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

बॉन्डहोल्डर्स के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

(viii)  कोई अन्य सूचना जैसे कि

)  नागरिक चार्टर

ख)  परिणाम फ्रेमवर्क दस्तावेज़ (आरएफडी)ग)   से संबन्धित छमाही रिपोर्ट ग)  नागरिक चार्टर में निर्धारित बेंचमार्क से संबन्धित निष्पादन लागू नहीं
4.6 आरटीआई आवेदनों और अपीलों का निपटान [फ.सं॰ 1/6/2011-आईआर दिनांक. 15.04.2013]

(i) प्राप्त और निपटाए गए आवेदनों का विवरण  

आईएफसीआई ने आरटीआई अधिनियम, 2005 को 2013 से आरटीआई अधिनियम के लागू होने के बाद, आईएफसीआई के लिए लागू किया है और नागरिकों को अपनी व्यावसायिक गतिविधियों में पारदर्शिता और निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए अधिनियम के तहत जानकारी प्रदान कर रहा है। आईएफसीआई द्वारा प्राप्त आवेदनों / प्रथम अपील की वर्ष-वार गणना निम्नानुसार  है, और आरटीआई अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के अनुसार, निर्धारित समय के भीतर इसका निपटान किया गया:  
 
वित्तीय वर्ष 2012-13 : 32 आवेदन
वित्तीय वर्ष 2013-14 : 134 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2014-15 : 110 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2015-16 : 114 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2016-17 : 142 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2017-18 : 95 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2018-19 : 98 आवेदन 
वित्तीय वर्ष 2019-20 : 117 आवेदन 
 
प्राप्त और निपटाए गए आवेदनों का विवरण यहां दिया गया है
 
(ii)  प्राप्त अपील के विवरण और जारी किए गए आदेश  वित्तीय 
 
वित्तीय वर्ष 2013-14 : 11 अपील
वित्तीय वर्ष 2014-15 : 30 अपील
वित्तीय वर्ष 2015-16 : 40 अपील
वित्तीय वर्ष 2016-17 : 16 अपील
वित्तीय वर्ष 2017-18 : 13 पहली अपील
वित्तीय वर्ष 2018-19 : 07 पहली अपील
वित्तीय वर्ष 2019-20 : 10 पहली अपील
 
प्राप्त और निपटाए गए अपील का विवरण यहां दिया गया है
4.7 संसद में पूछे गए सवालों के जवाब [धारा 4 (1) (डी) (2)]

पूछे गए प्रश्नों और दिए गए उत्तर का विवरण यहाँ उपलब्ध है

       

 

  5. जानकारी निर्धारित की जा सकती है

                        

क्र. सं॰ मद प्रकटन विवरण
5.1 इस तरह की अन्य जानकारी निर्धारित की जा सकती है [फ.सं॰. 1/2/2016-आईआर दिनांक। 17.8.2016, एफ नंबर 1/6/2011-आईआर डीटी। 2013/04/15]

(i)  के नाम व विवरण

(क)  वर्तमान सीपीआईओ व एफएए

(ख)  पूर्व सीपीआईओ और एफएए 1.1.2015 से

(ii)  स्वैच्छिक प्रकटीकरण सम्बन्धी थर्ड पार्टी ऑडिट का विवरण 

(क)  किए गए ऑडिट की तारीखे  - 15/06/2020

(ख)  किए गए ऑडिट की  रिपोर्ट

(iii)  संयुक्त सचिव/अतिरिक्त विभागाध्यक्ष से नीचे के स्तर के नहीं नोडल अधिकारियों की नियुक्ति
(क) नियुक्ति की तारीख

23/03/2021
(ख) अधिकारियों के नाम व पदनाम

सुश्री पुजा सिंगला, उपमहाप्रबंधक (विधि)
       

(iv) स्वतः प्रकटन के परामर्श के लिए मुख्य हिस्सेदारों की परामर्श समिति

(क) गठन की तारीख

23/03/2021
(ख) अधिकारियों के नाम व पदनाम

(I)  श्री वी॰ एस॰ नायर, महाप्रबंधक ((विधि)
(II) सुश्री रूपा देब, महाप्रबंधक (मानव संसाधन)
(III) श्री शक्ति कुमार, महाप्रबंधक (प्रबंध सूचना प्रणाली)    

(v) आरटीआई के अधीन बार-बार मांगी जाने वाली सूचना को चिन्हित करने के लिए आरटीआई में गहन अनुभव वाले पीआईओ/एफएए की समिति

(क) गठन की तारीख

     23/03/2021
(ख) अधिकारियों के नाम व पदनाम

    (I) सुश्री अनामिका राणावत, उपमहाप्रबंधक (विधि) – प्रथम अप्लेटलेट अथॉरिटी
    (II) श्री वरिंदर मालिक, सहायक महाप्रबंधक (विधि) – केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी
    (III) श्री दीपक मिश्रा, महाप्रबंधक व क्षेत्रीय कार्यालय प्रमुख, हैदराबाद - केंद्रीय सहायक लोक सूचना अधिकारी
    (IV) श्री मनोज परिदा, महाप्रबंधक व क्षेत्रीय कार्यालय प्रमुख, मुंबई - केंद्रीय सहायक लोक सूचना अधिकारी

 

  6. स्वयं दी गई प्रकट सूचना

 

क्र. सं॰ मद प्रकटन विवरण
6.1 मद / जानकारी का खुलासा किया ताकि जनता को जानकारी प्राप्त करने के लिए आरटीआई अधिनियम के उपयोग का न्यूनतम सहारा हो

उन मुद्दों की सूची जिनके लिए आईएफ़सीआई एक डिबेंचर ट्रस्टी है

डिबेंचर ट्रस्टी रिपोर्ट

एनपीए परिसंपत्तियों के लिए बिक्री नोटिस और निविदा 

सीएसआर पॉलिसी

6.2 प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय, भारत सरकार की वेबसाइट (जीआईजीडबल्यू) के लिए दिशानिर्देश फरवरी (2009 में जारी किए गए और केंद्रीय सचिवालय नियमावली में कार्यालय प्रक्रियाओं (सीएसएमओपी) में शामिल हैं)। भारत)

(i)  क्या एसटीक्यूसी प्रमाणन प्राप्त हुआ और इसकी वैधता।

लागू नहीं

(ii) क्या वेबसाइट वेबसाइट पर प्रमाण पत्र दिखाती है?  

 लागू नहीं