वित्तीय उत्पाद

आईएफसीआई लि., देश के प्रथम विकास वित्तीय संस्थान, की स्थापना 1 जुलाई, 1948 को भारतीय औद्योगिक वित्त निगम (आईएफसीआई) के रूप में उद्योगों की दीर्घावधि वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के उद्देश्य की गई थी । आरम्भ से ही आईएफसीआई ने व्यावसायिक रूप से संगत तथा बाजार के अनुरूप किए गए प्रयासों द्वारा भारतीय उद्योग के आधुनिकीकरण, निर्यात संवर्द्धन, आयात प्रतिस्थापन तथा ऊर्जा उत्पादन के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया है ।

उद्योग तथा समाज की आवश्यकताओं को लगातार पूरा करने के उद्देश्य से आईएफसीआई मुख्य रूप से निम्नलिखित सेवाएं प्रदान करता है, जिन्हें मुख्यतः तीन क्षेत्रों में वर्गीकृत किया गया है - परियोजना वित्तपोषण, निगमित वित्त व समूचे उद्योगों, सेवाओं व कृषि आधारित क्षेत्र के लिए संरचित वित्त ।

परियोजना वित्तपोषण

आईएफसीआई के व्यावसायिकों की टीम को अपने कार्यक्षेत्र की गहन समझ है और परियोजनाओं के विभिन्न स्तरों - ग्रीनफील्ड परियोजनाएं, ब्राउनफील्ड, अवस्थापना तथा विनिर्माण क्षेत्रों में विद्यमान परियोजनाओं के विविधीकरण तथा आधुनिकीकरण के लिए बढ़ती हुई तथा विविध अपेक्षाओं को पूरा करने हेतु वित्तीय सेवाओं को प्रदान करने की पूर्ण योग्यता है ।

परियोजना वित्त के अधीन विभिन्न क्षेत्र नवीकरणीय ऊर्जा, दूर-संचार, सड़कें, तेल व गैस, बंदरगाह, जहाजरानी, मूल धातु, रसायन, फार्मास्यूटीकल्स, इलेक्ट्रोनिक्स, कपड़ा, अचल सम्पदा, स्मार्ट सिटिज तथा नगरीय अवस्थापना आदि सम्मिलित हैं ।

निगमित वित्त

आईएफसीआई लघु, मध्यम व बड़ी कम्पनियों के ग्राहकों की विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा करता है । आईएफसीआई तुलन-पत्र निधिकरण, शेयरों के मद्दे ऋण, पट्टा किराया छूट, प्रवर्तक निधिकरण, दीर्घकालिक कार्यशील पूंजी अपेक्षाएं, पूंजी व्यय तथा नियमित रखरखाव कैपेक्स के माध्यम से निगमित वित्त के क्षेत्र में वित्तीय सेवाएं प्रदान करता है ।

ब्रिज फाइनेंसिंग तथा अल्पकालिक कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं सहित आईएफसीआई विभिन्न कारोबारी अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए अल्पकालिक ऋण उत्पाद (एक वर्ष की अवधि तक) भी प्रदान करता है ।

समूहन व परामर्श

आईएफसीआई ने ग्राहकों के अनुकूल निगमित सलाहकारी सेवाएं देने की पहल की है और विभिन्न निगमित निकायों व कम्पनियों की वित्तीय संरचना को सुगम बनाया है । हम अपने परियोजना मूल्यांकन, दस्तावेजीकरण, समूहीकरण, उत्पाद डिजाइन के व्यापक व गहन अनुभव से कम्पनियों के लिए आरम्भ से अन्त तक ग्राहक अनुकूलित समग्र वित्तीय समाधान प्रदान करते हैं । इसके अतिरिक्त, हम हमारी ग्राहक कम्पनियों के लिए ऋण तथा इक्विटी समूहीकरण व सलाहकारी सेवाएं भी प्रदान करते हैं ।

ग्राहकों के अनुकूल निगमित सलाहकारी सेवाओं को प्रदान करने के क्षेत्र में आईएफसीआई ने वित्तीय/निवेश मूल्यांकन, कारोबार पुनर्संरचना और सलाहकारी क्रियाकलापों से सम्बन्धित नए दत्तकार्य प्राप्त करने में सफल रहा है ।

संरचित उत्पाद

आईएफसीआई संरचित ऋण/मेजनीन उत्पाद की मार्फत अपने ग्राहकों को वित्त प्रदान करता है और अन्य के साथ-साथ प्रायोजक वित्तपोषण, अधिग्रहण वित्तपोषण, पूर्व अभिदान वित्तपोषण तथा तुलन-पत्र में न आने वाली संरचित सेवाओं सम्बन्धी विभिन्न आवश्यकताओं के वित्तपोषण को प्रदान करने में सहायता प्रदान करता है ।