प्रमुख प्रबन्धकीय कार्मिक

डा. ईमांदी संकरा राव

प्रबन्ध निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी

 

डा. ईमांदी संकरा राव इस समय आईएफसीआई लि., भारत सरकार का उपक्रम, के प्रबन्ध निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं । आईएफसीआई सबसे पुराना वित्तीय संस्थान है और यह देश का प्रथम विकास वित्त संस्थान है, जिसे 1948 में स्थापित किया गया था तथा अवस्थापना व उद्योग में विकास की मार्फत भारतीय आर्थिक वृद्धि में सहयोग कर रहा है । डा. राव आईएफसीआई समूह की कम्पनियों और संस्थानों जैसे स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ इण्डिया लि., आईएफसीआई वेंचर कैपिटल फंड्स लि., आईएफसीआई फैक्टर्स लि., प्रबन्ध विकास संस्थान - गुड़गावं तथा मुर्शीदाबाद व इन्स्टिट्यूट ऑफ लीडरशिप मेनेजमेंट के अध्यक्ष भी हैं । वह आईआईटी बॉम्बे (पीएचडी) तथा आईआईटी खड़कपुर (एम.टैक), पांडिचेरी सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी (पीजीडीबीए) और आन्ध्रा यूनिवर्सिटी (बीई इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग) के छात्र रहे हैं ।

आईएफसीआई लिमिटेड में कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व, डा. राव ने अग्रणी संस्थानों - आईआईएफसीएल व आईडीएफसी में 30 वर्ष से अधिक कार्य किया है । उन्हें परियोजना तथा निगमित वित्त, प्राइवेट इक्विटी, निवेश बैंकिंग, अवस्थापना विकास तथा दीर्घकालिक निधियां जुटाने (घरेलू व विदेशी दोनों) का गहन अनुभव है । वह आईआईएफसीएल एसेट मेनेजमेंट कम्पनी लि. के संस्थापक निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा आईआईएफसीएल प्रोजेक्ट्स लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थे व आईडीएफसी ग्रुप में निदेशक तथा उन्होंने कारोबार प्रमुख के रूप में भी कार्य किया है ।

डा. राव 12वीं पंचवर्षीय योजना के अवस्थापना वित्त (आरबीआई तथा पूर्ववर्ती नीति आयोग के बचत सूत्रीकरण पर कार्यकारी समूह के अधीन) सम्बन्धी उप-समूह के सदस्य, 12वीं पंचवर्षीय योजना के शहरी अवस्थापना के वित्तीयकरण के उप समूह के सदस्य तथा वित्त मंत्रालय में ऋण बाजार विकास सम्बन्धी डीएफएस समिति के सदस्य रहे तथा उन्होंने विभिन्न राष्ट्रीय तथा अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलनों एवं कार्यशालाओं में दस्तावेज प्रस्तुत करने तथा अनुसंधान सम्बन्धी कार्य में योगदान किया । हाल ही में उन्हें वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए विश्व प्रतिष्ठित एशिया पैसिफिक इन्टरप्राइज पुरस्कार प्रदान किया गया ।

बैंकिंग तथा वित्त के विशेषज्ञ होने के अतिरिक्त, डा. राव विद्याविद, कौशल विकास करने वाले तथा नए कारोबार को प्रोत्साहित करने वाले, सामाजिक सुधारक तथा एक कृषक भी हैं ।

सुश्री झुम्मी मंत्री

महाप्रबन्धक व मुख्य वित्तीय अधिकारी

 

सुश्री झुम्मी मंत्री अर्हता प्राप्त चार्टर्ड अकाउटेंट हैं और वर्ष 2001 से आईएफसीआई लि. में कार्यरत हैं । उन्हें लगभग 18 वर्षों का अनुभव है और उन्होंने आईएफसीआई में लेखांकन, कराधान, खजाना, निवेश, विदेशी मुद्रा व संसाधन कार्य किए हैं ।

सुश्री झुम्मी मंत्री इस समय महाप्रबन्धक के पद पर तैनात हैं और निगमित लेखों व कराधान तथा समेकित खजाना विभागों की प्रमुख हैं ।

 

सुश्री रूपा सरकार

महाप्रबंधक व कम्पनी सचिव

 

सुश्री रूपा सरकार, कम्पनी सचिव, आईएफसीआई, दि इंस्टिट्यूट ऑफ कम्पनी सेक्रेट्रीज ऑफ इण्डिया की एक असोसिएट सदस्य हैं, जिन्हें 14 वर्ष से भी अधिक का कार्य अनुभव है । उन्हें कारपोरेट्स तथा परामर्श दोनों में कार्य करने का अनुभव है ।

वह आईएफसीआई लिमिटेड से दिसम्बर, 2007 से जुड़ी हुई हैं ।

वह बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से वाणिज्य स्नातक हैं । उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से विधि में स्नातक डिग्री भी प्राप्त की है ।